Ticker

6/recent/ticker-posts

इंटरनेट का उपयोग

Hindi Essays
Internet


संकेत बिंदु :  इंटरनेट का उपयोग, आज की ज़रूरत, डिजिटल डेमोक्रेसी, पैसों का आदान प्रदान, करोना के कल में इंटरनेट का उपयोग, वरदान।

विषय परिचय:

आज का हमार यह युग इंटरनेट का युग माना जाता है, जहाँ हर प्रकार के काम डिजिटल तरीकों से किए जाते हैं। यहा कोई भी काम बिना इंटरनेट के नहीं होता। किसी भी प्रकार का काम हो उसमें इंटरनेट का उपयोग करना ही पड़ता है। 

इंटरनेट का अर्थ होता है आपस में जुड़ना (यानि इंटरकनेक्टेड), यह एक ऐसा माध्यम है जिससे लाखो लोग आपस में जुड़ रहे है। यह ज्ञान का ऐसा माध्यम है जो कभी ख़तम नहीं होगा। लोग दुन्या के किसी भी कोने से किसी भी प्रकार की जानकारी हो, याह कोई चीज़ सिकनी हो तो वह इंटरनेट के मदद ले सकता है।

उपयोग विस्तार में:

यह एक ऐसा माध्यम है जिसमें हम सुचना, मनोरंजन, लाइव चैट, गेम आदि कार्य बड़ी सहजता के साथ कर सकते है। इंटरनेट के ऍप्स से या वेबसाइट से आप का जीवन और अधिक सरल और आसान बनाने में बहुत सहायक है। यह एक ऐसा गहरा जाल है जिसे समझना बहुत ही कठिन है। इंटरनेट के बारे में कितना भी कहे वह सब काम ही है। दुनिया का हर एक इंसान आज इंटरनेट से जुड़ रहा है।

हर रोज़ कई हज़ार लोग इंटरनेट से जुडते है। वह एक समय था जब इंटरनेट मात्र एक कल्पना था किसीने सोचा नहीं था कि आज वह इतना प्रसिध होगा की लोग उस पर पूरी तरह से निर्भर रहेंगे। लोग अपनी दिनचर्या की जानकारी उसमे शामिल करते है।

आज घर मैं बैठकर हम कोई भी काम आसानी से कर सकते है। सिनेमा देकना हो, टिकट बुक करना हो, रिचार्ज करना हो यह सरे काम हम लोग इंटरनेट की मद्दद से कर सकते है। लाखो लोगों को घर बैठकर रोज़गार मिल रहा है। अब हम ऑनलाइन किताबे, घडी, पुस्तक यह सारे चीजे आर्डर कर सकते है।

खरीदारी में योगदान:

चीजों को खरीदना हो यह चाहे बेचना आज हर चीज एक क्लिक से आसानी से हो जाती है। काफ़ी ऐसे साइट्स है जैसे अमेज़न, फ्लिपकार्ट अदि जहा पर पूरे विस्तार में जानकारी, उपयोग, डिस्काउंट अदि के साथ सारी चीजे दिखाइ गई है।

नौकरी ढूँढना:

एक समय ऐसा था कि लोगों को काम न होने पर काम ढूंढ़ने जाना पड़ता था उसी करन काम ढूंढ़ते-ढूंढ़ते उनका काफ़ी समय उसी में चला जाता और साथ ही किसी व्यक्ति को अगर काम के लिए किसी की ज़रूरत पड़ती हो उसे भी ढूंढ़ने में बहुत वक़्त गुजरना पड़ता था लकिन इंटरनेट पर काफ़ी ऐसे साइट्स और अप्प्स ही जिनकी मदद से लोग काम ढूँढ सकते है।

डिजिटल डेमोक्रेसी:

डिजिटल डेमोक्रेसी का जन्म भी इंटरनेट के आने और पूरे लोगों के पास पहुँचने के बाद हुआ। इंटरनेट के उपयोग से लोगों तक पोहोच बनाकर शासन के सारे सुविधाएँ लोगों तक पहुँचने लगी। डेमोक्रेसी का अर्थ है लोगों का, लोगों के लिए, लोगों का शासन। इसी तरह डिजिटल डेमोक्रेसी वह प्रक्रया है, जो डिजिटल माध्यम के सहरे सरकर और लोगों को आपस में संवाद का माध्यम बनाती है।

इंटरनेट की पोहच (इंटरनेट की कमिया) :

इंटरनेट जितना हमारे लिए जितना सरल और साधारण से मिल जाता है उतना बाकि क्षेत्रो में नहीं मिलता आज देश के कुछ ऐसे हिस्से है जहा पर इंटरनेट का नाम और निशान भी नहीं है। उन लोगों को इंटरनेट मतलब क्या यह भी पता नहीं है। और कुछ ऐसे इलाखे है जहा बहुत सारे लोगों को इंटरनेट चलना नहीं आता। हम लोग भी इंटरनेट मतलब जानकारी खोजना, वीडियो देखना यह सब मानते है लकिन इंटरनेट इससे भी काफ़ी बढ़कर है।

दुकानों के लिए:

हम हमारी कोई भी वास्तु आसानी से बेच सकते है। अधिक ग्राहक जुड़ने के कारन लोग प्रसिद्धि पाकर और अधिक पैसे कमा रहे है। दुकानदार लोगों की ज़रूरत को समझ कर उनके अनुसार अपने वास्तु को बिकता है। इंटरनेट के माध्यम से हम कोइ भी वास्तु, दुकान जैसे चीजों का प्रचार आसानीसे कर सकते है।

हर दुकानदार अपने दुकान के लिए अभी अपनी-अपनी साइट्स बना रहे हैं। जिससे घर में रहकर हमे पता चले की इस दुकान में क्या-क्या सामान है और उसकी क्या क़ीमत हैं। घर पर हर दुकान के लोग अभी सामान डिलेवरी करने आते है।

वरदान:

इंटरनेट मनुष्य को एक वरदान के सामान है जिसने लोगों को थोड़ी राहत देने है काम किया है। सभी सरकारी, शिक्षा संधर्बी, बिज़नेस आदि काम हम घर से ही बैठकर करने में सक्षम है। यह जनसंचार माध्यम का एक महत्त्वपूर्ण अंग है। जिसके बिना आज का संचार अधूरा है।

कुछ पालो में कोई भी जानकारी इधर से उधर हो सकती है। ताज़ा खबरों की बात करे तो इस में इंटरनेट का बड़ा हात है तुरंत एक जगह से दूसरी जगह खबरे फ़ैल जाती है। आज अंक सोशल मीडिया साइट्स और ऍप्स है जिसके मदद से लोगों में जागरूकता फ़ैल सकती है।

कंपनीयो को फायदा:

आज बहुत सारी कम्पनिया ऑनलाइन हो गए है जिसे उन्हे कर्मचारी ना मिलने पर ऑनलाइन लैंसर के मदद से काम करते है। लोग भी अपना काम घर बैठ कर आसानी से कर सकते। बहुत से ऑनलाइन कंपन्या, यह बिज़नेस ऐसे है जिन्हे हॉग पूरी दुन्या के कोने से चलते है। आज के समय में लोग इकठा करो फिर उन्हे काम पर लगाओ एसिया नहीं होता। आज सिर्फ़ अपने जॉब का रिज्यूमे तैयार करके लैंसर वाले साइट पर देना है फिर लोग आपसे जुड़कर काम प्रदान करेंगे।

पैसों का आदान प्रदान:

कुछ साल पहले लोगों ने यह सोचा ही नहीं था कि लोग इंटरनेट की मदद से एक दूसरे को पैसे भी पंहुचा सकते हैं। जब इलेक्ट्रॉनिक मनी का निर्माण किया गया तबसे ही हम इस चीज का फायदा लाने में सक्षम हो गए है।

आज यह चीज इतनी आसान हो गए है कि लोग घर में रहकर बिना बैंक के चक्कर काटे बड़ी से बड़ी रक्कम एक कहते से दूसरे कहते में पंहुचा सकते हैं।

करोना के कल में इंटरनेट का उपयोग:

करोना सबसे बड़ा रोग जिसने सभी लोगों की रत की नींद को उड़ा दिया। अनेक लोगों की जाने चली गई और इस में इंटरनेट ने लोगों को एक आधार प्रदान किया, सारे देश में स्कूल बंद होने की वज़ह से सभी की पढाई रुकी हुई थी लकिन आज सारे स्कूल ओर कॉलेज वालोने ने इंटरनेट से पढ़ाई शुरू की।

अगर इस समय में इंटरनेट नहीं होता तो लोगों को काफ़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ता। बच्चों का काफ़ी नुक़सान होता। इंटरनेट के इस जल ने लोगों की तकलीफे काफ़ी हद तक काम कर दी है। इस वरदान का लोगों ने उचित समय उचित पारकर उपयोग करना चाहिए।

निष्कर्ष:

इंटरनेट के बारे में जितनी भी बाते कहे उतनी काम ही है। हर क्षेत्र अपने काम में आज इसका उपयोग कर रहा है और हमेशा करता रहे गए।

 

५० - ६०  शब्दों में निबंध :

आज का हमार यह युग इंटरनेट का युग माना जाता है | यहा कोई भी काम बिना इंटरनेट के नहीं होता। यह एक ऐसा माध्यम है जिससे लाखो लोग आपस में जुड़ रहे है। लोग दुन्या के किसी भी कोने से किसी भी प्रकार की जानकारी हो, याह कोई चीज़ सिकनी हो तो वह इंटरनेट के मदद ले सकता है।इंसान के काम करने के तरीके और जीवन में  बदलाव  लाने में इंटरनेट का काफी उपयोग हो रहा आया है। 

इसने व्यक्ति के समय और मेहनत की बचत की इसलिये ये जानकारी पाने के लिये बहुत फायदेमंद है साथ ही इससे कम खर्च में ज्यादा आमदनी प्राप्त हो सकती है| आज हर चीज किसी भी क्षण कहा से कहा पहोच सकती है  उसका पता नहीं चलता | आज हर चीज की इतनी डिमांड है की उसके लिए हर एक जगह भटकना बहुत मुश्किल है | 

आज बहुत सारी कम्पनिया ऑनलाइन हो गए है जिसे उन्हे कर्मचारी ना मिलने पर ऑनलाइन लैंसर के मदद से काम करते है। बच्चों की सारी पढ़ाई भी आज ऑनलाइन हो चुकी है | इंटरनेट पर आज पुस्तकालय , शॉपिंग , मूवी जैसे सारे काम कुछ पालो में होते है | 


Example Site - Frequently Asked Questions(FAQ)

Post a Comment

0 Comments